फिर कंगना ने खोला बॉलीवुड का काला चिट्ठा, सोनू सूद और डायरेक्टर क्रिश भी लपेटे में।

फिल्म ‘मणिकर्णिका’ को रिलीज हुए एक हफ्ते से ज्यादा का समय बीत चुका है, लेकिन इस पर होने वाला विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा। फिल्म के को-डायरेक्टर क्रिश और कंगना रनौत के बीच वॉर लगातार जारी है।

दोनों एक दूसरे पर जमकर निशाना साध रहे हैं। बीते दिनों कंगना ने क्रिश को जवाब देते हुए कहा था कि उन पर लगाए गए सभी आरोप गलत हैं। इसके बाद कंगना ने अब बॉलीवुड पर निशाना साधा है।

मीडिया से बात करते हुए कंगना ने कहा, ‘जब मैं शूट करने जा रही थी तो बहुत से लोगों ने मुझे रोकने की कोशिश की थी। मुझे ब्लेम किया जा रहा था। बॉलीवुड का गैंग मुझे बर्बाद कर देना चाहता है। कई लोगों ने मेरे और मेरी फिल्म के खिलाफ केस किया, लेकिन मैं आगे बड़ी और बहुत बड़ा रिस्क लिया।

मणिकर्णिका को रीवाइव करना मुश्किल था। सिर्फ 50 फीसदी चांस ही थे कि इसको बनाया जाए, लेकिन फिल्म बन गई यह अच्छी बात है।

क्रिश और सोनू सूद को लेकर कंगना ने कहा, ‘मैं खुलकर बोलती हूं। सोशल मीडिया पर कुछ लोग बाते कर रहे हैं। मीडिया ट्रायल हो रहा है। यह सब मत करो, आप मुझसे सीधे आकर बात करो। पहले उन्हें लग रहा था कि फिल्म नहीं बन पाएगी, लेकिन अब बन गई है तो कह रहे हैं कि मेरी फिल्म है। फिल्म से सोनू सूद का कॉन्ट्रेक्ट खत्म हो गया है तो उन्हें फिल्म की बात नहीं करनी चाहिए।’

परफेक्शन को लेकर कंगना ने कहा कि, मैं नहीं सोचती कि मैं मास्टर हूं या परफेक्ट हूं। लेकिन कुछ करती हूं तो अच्छा ही करती हूं। अगर गले में कफ नहीं हो तो अच्छी स्पीकर भी हूं। पिछले कुछ साल अच्छे नहीं रहे।

फिल्में नहीं चली और मणिकर्णिका को लेकर लोगों को बहुत परेशानी थी। शूटिंग करते वक्त इंजरी होने पर 18 स्टिच आए थे तब बहुत मुश्किल भरा समय था। सब लोग एक साथ अटैक कर रहे थे।’

मणिकर्णिका‘ के को-डायरेक्टर क्रिश ने कंगना पर आरोप लगाते हुए कहा था कि, ‘फिल्म 70 फीसदी मेरी है। मैंने रिलीज होने तक चुप्पी साधे रखी। मुझे नहीं पता था कि कंगना निर्देशन कर रही हैं। सोनू सूद के फिल्म छोड़ने के बाद मुझे इसका पता चला।

कई लोगों ने मुझे सलाह दी कि फिल्म को मेरे हाथ से लिए जाने के बाद मुझे बोलना चाहिए लेकिन मुझे लगा कि मणिकर्णिका फिल्म मेरे बच्चे की तरह है। रिलीज होने से पहले मैंने चुप रहना ही बेहतर समझा।

क्रिश ने आगे कहा था कि, ‘मुझे याद है कि जब कंगना ने पहला कट देखा और फिल्म की तारीफ करने से पहले कहा कि सोनू सूद जबरदस्त लग रहे हैं ना? क्योंकि एक दुश्मन के रूप में सोनू सूद बहुत दमदार थे। हमने इस तरह से फिल्म डिजाइन की थी। नायिका को प्रभावशाली दिखाने के लिए दुश्मन का भी दमदार होना जरूरी होता है लेकिन बाद में फिल्म में उनके सीन काट दिए गए।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

scroll to top