मोहब्बत के शहर में दहेज लोभियों द्वारा फेरों के बाद बारात वापस ले जाने का मामला

जिंदगी भर की कमाई से ब्याहने चला था बेटी, दहेज लोभियों ने फेरो के बाद लौटाई बारात

मोहब्बत के शहर में दहेज लोभियों द्वारा फेरों के बाद बारात वापस ले जाने का मामला सामने आया है।शादी तोड़ कर बारात वापस ले जाने वाले परिवार ने पीड़ित परिवार को बरगला कर तीन दिन निपटाने के बाद उल्टा पीड़ितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की कोशिश की है।

हालांकि वक्त रहते मामला समझ मे आने पर पीड़ित परिवार ने उनके खिलाफ तहरीर दी है।पुलिस पीड़ित की तरफ से मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही की तैयारी कर रही है।

मामला थाना ताजगंज का है।यहां के फतेहाबाद रोड त्रिवेणी गार्डेन में 9 मार्च को कमल नगर निवासी युवती की शादी थाना न्यू आगरा के दयाल बाग अंतर्गत सरला बैग निवासी फैक्ट्री संचालक सागर गर्ग के साथ हो रही थी।देर रात जब जयमाल का कार्यक्रम निपट गया और लड़की पक्ष ने फेरों की तैयारी की तो अचानक सागर गर्ग और उसकी माता रेणु गर्ग द्वारा पजेरो कार की मांग कर दी गयी।

सोना चांदी और नकदी के साथ विवाह के खर्च में अपनी जीवन भर की कमाई 35 लाख से ज्यादा लुटा चुके परिवार ने मांग पूरी करने से इनकार कर दिया तो दूल्हे ने बारात वापस कर ली।बारात वापसी के बाद 100 नम्बर पर काल कर पुलिस बुलाने के बाद भी काम नही बना और तब तक मामला समाज की पंचायत में पहुंचा और लड़की पक्ष को शादी का पूरा खर्च लौटाने की बात तय करके तीन दिन घुमाया गया।

इसके बाद दूल्हा चुपचाप लड़की पक्ष को गलत ठहराते हुए थाना ताजगंज में मुकदमा दर्ज कराने की कोशिश कर डाली।गनीमत रही कि वधु पक्ष को जानकारी मिल गयी और उन्होंने तत्काल एसएसपी से शिकायत करके थाना ताजगंज में मुकदमा दर्ज कराया है।पीड़ित पक्ष दोबारा उनसे सम्बन्ध नही रखना चाहता और उनके खिलाफ कार्यवाही की माग कर रहा है।

दहेज को अभिशाप मानने और कानून बनाने से भी आज बेटियों के पिता कन्यादान करने के समय लाचार हो रहे हैं क्योंकि कन्यादान के लिए आज भी दूल्हा इतनी दक्षिणा मांगता है कि बेटी का बाप शायद ही उसे पूरा कर पाए।अब इस प्रकरण में देखना यह भी की क्या पीड़ित परिवार को न्याय मिल पायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

scroll to top