राज बब्बर को मिली अन्तरिम ज़मानत,गायत्री प्रजापति रेप प्रकरण में

थानाहज़रत गंज लखनऊ के 2015 प्रदर्शन रोकने पर पुलिस पार्टी पर पथराव के आरोप में समर्पण करने पर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर को विशेष जज एमपी एमए ले पवन तिवारी ने अपराध की गंभीरता को देखते हुए अभियोजन के अपर ज़िला शासकीय अधिवक्ता राजेश गुप्ता के समय की मांग को स्वीकार करते हुए ज़मानत प्रार्थना पत्र की सुनवाई 5 अप्रैल को निश्चित करते हुए तब तक के लिए अन्तरिम ज़मानत स्वीकार कर ली है।

17 अगस्त 2015 को महंगाई,बेरोज़गारी,किसानों के ऋण,बढ़ती पेट्रोल की कीमतों,व बढ़ते हुए अपराध के विरोध में लक्ष्मण मेला क्षेत् में कांग्रेस कमेटी की ओर से धरना प्रदर्शन था जहां उत्तेजक भाषण दिए नेताओं राज बब्बर,निर्मल खत्री,रीता बहुगुणा जोशी,मधु सूदन, प्रवीण जैन,शारिक अली के भाषण पर उत्तेजित 500 अज्ञात कार्यकर्ताओ का जुलूस आगे बढ़ा जिसे रोकने पर सभी ने पुलिस वालों पर ईंट पत्थर चला दिए व जान लेवा हमला किया जिसमें एडीएम निधि श्रीवास्तव,एसपी राजीव मल्होत्रा,अवनीश मिश्र गंभीर रूप से घायल हुए जिसकी एफआईआर हज़रतगंज थाना में एस आई प्यारे लाल ने धारा

147,148,149,332,336,353,307,337,338,341,343 आइपीसी में दर्ज कराई जिसमे आरोप पत्र लगने के बाद आज राज बब्बर ने हाज़िर होकर अन्तरिम ज़मानत कराई।अब राज बब्बर को पुनः व्यक्तिगत रूप से 5 अप्रैल को न्यायालय में हाज़िर होना है।

वहीं गायत्री प्रजापति को जेल से अदालत में पेश किया गया, बलात्कार प्रकरण में पीड़िता की गवाही पूरी हुई नियत तिथि 4 अप्रैल को पीड़िता की पुत्री की गवाही होनी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

scroll to top