पद्मश्री अवार्ड से नवाजे गये बजरंग,कमल ,अजय सहित कई अन्य खिलाड़ी

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पहलवान बजरंग पूनिया सहित चार खिलाड़ियों को सोमवार को पद्म पुरस्कारों से सम्मानित किया। राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक समारोह में उन्हें ये पुरस्कार प्रदान किए गए। टेबल टेनिस खिलाड़ी अचंत शरत कमल, कबड्डी खिलाड़ी अजय ठाकुर और शतरंज खिलाड़ी द्रोणावल्ली हरिका को भी पद्मश्री से सम्मानित किया गया।

बजरंग पूनिया ने 2018 में राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीते थे और अपने 65 किग्रा फ्रीस्टाइल वर्ग में विश्व रैंकिंग में नंबर एक पर भी पहुंचे थे। वह विश्व चैंपियनशिप में रजत पदक भी जीत चुके हैं। राष्ट्रमंडल खेलों में कुल चार स्वर्ण जीत चुके अचंत शरत ने टेबल टेनिस, हरिका ने शतरंज और अजय ठाकुर ने कबड्डी में भारत को नई ऊंचाइयां दीं हैं।

कुश्ती संघ ने बजरंग को दिया 6 लाख 75 हजार का चेक
देश के जाने-माने पहलवान और दुनिया में हरियाणा का नाम रोशन करने वाले बजरंग पूनिया को सोमवार को पद्मश्री पुरस्कार से नवाजे जाने के बाद भारतीय कुश्ती संघ ने उन्हें 6 लाख 75 हजार रुपए देकर सम्मानित किया । यह राशि भारतीय कुश्ती संघ (डब्ल्यूएफआई) ने पहलवानों के लिए अनुबंध प्रणाली के तहत बजरंग को दी है।  उसी के तहत भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने उन्हें 6 लाख 75 हजार का चेक देकर सम्मानित किया। बृजभूषण ने बजरंग को पद्मश्री मिलने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि आज बजरंग 2020 ओलंपिक को लेकर भारत के पास पदक जीतने की सबसे बड़ी उम्मीद है।

पद्मश्री पुरस्कारों की सूची में पहलवान बजरंग पूनिया, फुटबॉलर सुनील छेत्री, क्रिकेटर गौतम गंभीर, बॉस्केटबॉल खिलाड़ी प्रशस्ति सिंह, शतरंज ग्रैंडमास्टर हरिका द्रोणावल्ली, कबड्डी खिलाड़ी अजय ठाकुर, तीरंदाज बॉमबायला देवी लैशराम और टेबल टेनिस खिलाड़ी अचंत शरत कमल शामिल हैं। बाकी बचे विजेताओं को बाद में एक समारोह में सम्मानित किया जाएगा।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सोमवार को 112 पद्म पुरस्कारों में से 55 पद्म पुरस्कार प्रदान किए, जिनमें एक पद्म विभूषण, आठ पद्म भूषण और 46 पद्मश्री प्रदान किए गए।
वर्ष 1984 में माउंट एवरेस्ट फतह करने वालीं पहली भारतीय महिला बछेंद्री पाल को पद्मभूषण से सम्मानित किया गया। खिलाड़ी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

scroll to top