बसपा सुप्रीमो मायावती ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस

चुनाव आयोग की कार्रवाई के बाद मायावती की प्रेस कॉन्फ्रेंस

मायावती ने कहा कि मैंने कारण बताओ नोटिस का जवाब दे दिया था – मायावती

मैंने जाति-धर्म के आधार पर वोट नहीं मांगा – मायावती

चुनाव आयोग ने जल्दबाजी में फैसला लिया – मायावती

ये फैसला दबाव में लिया गया माना जा रहा – मायावती

मुझे भाषण की सीडी नहीं दी गई – मायावती

संविधान में दिए गए अधिकारों से वंचित किया गया – मायावती

बीजेपी धर्म और जाति के नाम पर वोट मांगती है – मायावती

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री मोदी पर कार्रवाई नहीं हो रही – मायावती

अमित शाह को चुनाव आयोग ने खुली छूट दे रखी है – मायावती

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

scroll to top